शूटिंग के दौरान धर्मेंद्र की एक अजीब आदत से परेशान हो जाती थी आशा पारेख !

फिल्मों की शूटिंग के दौरान एक्टर्स के बीच तकरार और नोक झोंक होती रहती है। यही सब बाद में यादें बन जाती है और स्टार्स इन खास पलों को याद करते हैं। फिल्मों की दुनिया में कई अभिनेताअभिनेत्री ऐसे हैं, जिनकी दोस्ती आज काफी शानदार है। लेकिन ये हमेशा ऐसे नहीं थे। इनके बीच भी तकरार हुई, एकदूसरे की आदतें नापसंद की गई और फिर जाकर गहरी दोस्ती हुई। आज हम आपको जिन स्टार्स के बारे में आपको बताने जा रहे हैं, उनकी जोड़ी को पर्दे पर दर्शकों ने काफी पसंद किया। हम बात कर रहे हैंहीमैनधर्मेंद्र और मशहूर अदाकारा आशा पारेख के बारे में। धर्मेंद्र और आशा पारेख की दोस्ती आज भी बरकरार है और पर्दे पर दोनों की जोड़ी हिट थी। लेकिन पर्दे के पीछे का एक दिलचस्प किस्सा हम आपको बताने जा रहे हैं

धर्मेंद्र और आशा पारेख दोनों ही अपने जमाने के बड़े स्टार रहे हैं। जो किस्सा हम आपको आज बताने जा रहे हैं वो फिल्मआए दिन बहार केकी शूटिंग के दौरान का है। इस किस्से को खुद आशा जी ने एक रियलिटी शो के दौरान बताया था। तो चलिए बताते हैं आपको इस शानदार दोस्ती के पीछे का ये मजेदार किस्सा।

धर्मेंद्र और आशा पारेख अब फिल्मों से एकदम दूर हो चुके हैं लेकिन 60-70 के दशक में दोनों का जादू खूब चला था। इनकी फिल्में हाउसफुल रहती थी और आशा पारेख तो टॉप की हीरोइन थीं। उनकी फिल्में सिल्वर जुबली मनाती थीं। उन्हें इंडस्ट्री मेंजुबली पारेखभी कहा जाता था। ऐसे में कोई भी निर्देशक और अभिनेता उनसे उलझने की भूल नहीं करता था। ये बात किसी से छिपी नहीं है कि धरम पाजी को शराब से बेहद लगाव है। उन्हें शराब से ठीक वैसा ही लगाव है जैसा पाजी को इन दिनों अपने फॉर्महाउस में उगने वाली सब्जियों से है। कहा जाता है कि धर्मेंद्र बेहद कम उम्र में ही शराब पीने लगे थे। ये किस्सा तब का है जब फिल्मआए दिन बहार केकी शूटिंग खूबसूरत हिल स्टेशन दार्जलिंग में चल रही थीं। 

फिल्मआए दिन बहार केकी शूटिंग का पैकअप होते ही लोकेशन पर ही शराब की बोतले खुल जाती थीं। धर्मेंद्र, फिल्म के निर्देशक और बाकि टीम मेंबर्स के साथ बैठकर रात भर शराब पार्टी किया करते थे। धर्मेंद्र इतनी ज्यादा शराब पी लेते थे कि सुबह तक भी उनके मुंह से बदबू नहीं जाती थी। आशा जी बड़ी स्टार थीं और उनके साथ ही धरम पाजी शूटिंग कर रहे थे, तो ऐसे में उन्हें डांट खाने का डर भी रहता था। 

ऐसे में धर्मेंद्र भी आशा पारेख की डांट से बचने के लिए अजीब नुस्खा अपनाते थे। वह शराब की गंध को छुपाने के लिए प्याज खाकर सेट पर पहुंचते थे। आशा पारेख को धर्मेंद्र के मुंह से आने वाली प्याज की बदबू ने परेशान कर दिया था। एक दिन ज्यादा तंग आकर आशा पारेख ने शिकायत कर दी कि धर्मेंद्र के मुंह से प्याज की बदबू आती है और वो ऐसे शूटिंग नहीं कर सकतीं। फिर धर्मेंद्र ने उन्हें बताया कि वो शराब की बदबू छिपाने के लिए प्याज खाते हैं।

 

इस पर आशा पारेख ने उन्हें तपाक से जवाब दिया कि वह शराब ना पिया करें। तब धर्मेंद्र ने भी आशा पारेख से वादा किया कि वह सेट पर कभी शराब नहीं पिएंगे। इसके आगे का किस्सा सुनाते हुए आशा पारेख ने बताया था कि, धर्मेंद्र ने वादे के मुताबिक शराब की एक बूंद नहीं पी थी। उन दिनों धर्मेंद्र को फिल्म के एक गाने की शूटिंग पानी में खड़े होकर करनी थी। शूटिंग करने के दौरान धर्मेंद्र ठंड की वजह से नीले पड़ जाते थे। उन्हें ब्रांडी ऑफर की जाती थी। लेकिन धर्मेंद्र ने शराब नहीं पीने का वादा किसी कीमत पर नहीं तोड़ा। उन्हें डर था कि कहीं आशा पारेख शूटिंग छोड़कर ना चली जाएं। बस यहीं से दोनों के बीच अच्छी दोस्ती हो गई और ये दोस्ती आज भी कायम है।

Source: Amar Ujala