13 साल की सरोज खान ने चार बच्चों के पिता से कर ली थी शादी, उम्र में था 30 साल का अंतर !

बॉलीवुड एक्टर्स को अपने इशारों पर नचाने वाली मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान इसी साल 3 जुलाई को दुनिया छोड़कर चली गईं। उन्होंने अपने करियर में हर बड़े कलाकार को डांस सिखाया। माधुरी दीक्षित और श्रीदेवी जैसी अभिनेत्रियों के बेहतरीन डांस के पीछे सरोज खान का ही हाथ था। उन्हें सब मास्टर जी कहकर पुकारते थे। बॉलीवुड में अपनी जगह बनाने के लिए उन्हें बहुत संघर्ष का सामना करना पड़ा।

सरोज खान का जन्म 22 नवंबर 1948 को मुंबई में हुआ था। कम ही लोगों को पता है कि उनका असली नाम निर्मला नागपाल था। उनके पिता का नाम किशनचंद सद्धू सिंह और मां का नाम नोनी सद्धू सिंह था। विभाजन के बाद सरोज खान का परिवार पाकिस्तान से भारत आ गया था। मात्र तीन साल की उम्र में सरोज ने बतौर बालकार फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था।

50 के दशक में सरोज खान ने बैकग्राउंड डांसर के तौर पर काम करना शुरू कर दिया था। डांस की ट्रेनिंग उन्होंने कोरियोग्राफर बी.सोहनलाल से ली थी। सोहनलाल को 13 साल की सरोज खान पसंद आ गईं और फिर दोनों की शादी हो गई। उस समय सोहनलाल 43 साल के थे और साथ ही चार बच्चों के पिता भी थे। सरोज खान उस वक्त इतनी छोटी थीं कि उन्हें शादी का मतलब तक नहीं पता था।

सोहनलाल से सरोज खान के तीन बच्चे हुए। इनमें से एक बच्चे की मौत जन्म से पहले ही हो गई। कुछ वक्त बाद दोनों अलग हो गए और फिर सरोज खान ने कभी शादी नहीं की। उन्होंने अपने दोनों बच्चों का पालन पोषण अकेले ही किया। इस दौरान उन्होंने बहुत परेशानियों का सामना किया।

1974 में रिलीज हुई फिल्म ‘गीता मेरा नाम’ से सरोज एक स्वतंत्र कोरियोग्राफर बन गईं। हालांकि उनके काम को काफी समय बाद पहचान मिली। फिल्म ‘मिस्टर इंडिया, ‘नगीना’, ‘चांदनी’, ‘तेजाब’, ‘थानेदार’ और ‘बेटा’ के गानों ने धूम मचा दी और सरोज खान की गिनती बॉलीवुड के बड़े कोरियाग्राफर्स में होने लगी। उन्होंने 3000 से ज्यादा गानों में कलाकारों को डांस सिखाया। उनके योगदान को बॉलीवुड कभी नहीं भूल पाएगा।

Source: Amar Ujala

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *